भाजपा ने किया धमाका मप्र विधानसभा चुनाव के लिए 39 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 सितंबर को भोपाल में कार्यकर्ता महाकुंभ में शामिल होंगे | मध्य प्रदेश से बड़ी खबर शिवपुरी जिले से बीजेपी विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने दिया इस्तीफा बोले- सिंधिया के आने के बाद भाजपा की रीति-नीति ही बदल गई ग्वालियर, चंबल में कुचला जा रहा मूल कार्यकर्ताओं को | मुरैना में एक ही परिवार के 6 लोगों की गोली मारकर हत्या की | भाजपा पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के पुत्र दीपक जोशी 6 मई को हो सकते हैं कांग्रेस में शामिल |

यदि आपकी कुंडली में हंस योग है तो..

यदि आपकी कुंडली में हंस योग है तो..
कुंडली की पंच योग क्या है? पंचमहापुरुष योग में से एक हंस योग होता है। पंच मतलब पांच, महा मतलब महान और पुरुष मतलब सक्षम व्यक्ति। कुंडली में पंच महापुरुष मंगल, बुध, गुरु, शुक्र और शनि होते हैं। इन पांच ग्रहों में से कोई भी मूल त्रिकोण या केंद्र में बैठे हैं तो श्रेष्ठ हैं। केंद्र को विष्णु का स्थान कहा गया है। महापुरुष योग तब सार्थक होते हैं जबकि ग्रह केंद्र में हों। विष्णु भगवान के पांच गुण होते हैं। भगवान राम चंद्र और श्रीकृष्ण की कुंडली के केंद्र में यही पंच महापुरुष विराजमान थे। उपरोक्त पांच ग्रहों से संबंधित पांच महायोग के नाम इस तरह हैं:- 1.मंगल का रूचक योग, 2.बुध का भद्र योग, 3.गुरु का हंस योग, 4.शुक्र का माल्वय योग और 5.शनि का शश योग होता है। हंस योग क्या है? यह योग गुरु अर्थात बृहस्पति से संबंधित है। कर्क में 5 डिग्री तक ऊंचा, मुल त्रिकोण धनु राशि 10 डिग्री तक और स्वयं का घर धनु और मीन होता है। पहले भाव में कर्क, धनु और मीन, 7वें भाव में मकर, मिथुन और कन्या, 10वें भाव में तुला, मीन और मिथुन एवं चौथे भाव में मेष, कन्या और धनु में होना चाहिए तो हंस योग बनेगा। जब जब बृहस्पति ऊंचा या मूल त्रिकोना में, खुद के घर में या केंद्र में कहीं स्थित है तो भी विशेष परिस्थिति में यह योग बनेगा। बृहस्पति यदि किसी कुंडली में लग्न अथवा चन्द्रमा से 1, 4, 7 अथवा 10वें घर में कर्क, धनु अथवा मीन राशि में स्थित हों तो ऐसी कुंडली में हंस योग बनता है जिसका शुभ प्रभाव जातक को सुख, समृद्धि, संपत्ति, आध्यात्मिक विकास तथा कोई आध्यात्मिक शक्ति भी प्रदान कर सकता है।

बागेश्वर धाम मंदसौर से लाइव

बागेश्वर धाम मंदसौर से लाइव

बागेश्वर धाम मंदसौर से लाइव

दिवाली 2021: दिवाली पर इन उपायों से करें मां लक्ष्मी को...

दिवाली 2021: दिवाली पर इन उपायों से करें मां लक्ष्मी को प्रसन्न, मां लक्ष्मी कर देंगी आपको मालामाल

धर्म डेस्क, एमपीदुनिया इंदौर। अगर आप चाहते हैं कि मां लक्ष्मी जी की कृपा आप पर बनी रहें और आपको...

महा शिवरात्रि के पावन पर्व पर भगवान श्री पशुपतिनाथ...

महा शिवरात्रि के पावन पर्व पर भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव के दर्शन कीजिये दिनभर

महा शिवरात्रि के पावन पर्व पर भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव के दर्शन कीजिये दिनभर

घर में शिवजी की तस्‍वीर लगाते वक्त न करें ये गलतियां, पड़...

घर में शिवजी की तस्‍वीर लगाते वक्त न करें ये गलतियां, पड़ सकती हैं भारी

एमपीदुनिया धर्म डेस्क नईदिल्ली। वास्‍तु शास्‍त्र के नियमों के अनुसार घर में भगवान के प्रतीक...

काशी काल भैरव: 5 दशक बाद बाबा भैरव विग्रह ने छोड़ा संपूर्ण...

काशी काल भैरव: 5 दशक बाद बाबा भैरव विग्रह ने छोड़ा संपूर्ण चोला, जाने क्या देता है संकेत

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ विग्रह से अलग होकर टूटा बाबा काल भैरव का कलेवर किसी बड़ी...